एक साथ पिता और बच्चों की अर्थियां उठते ही बिलख पड़ा पूरा गांव

एटा 24 मई। रिजोर थाना क्षेत्र में एक साथ पिता और दो पुत्रों की अर्थियां उठीं तो पूरा गांव बिलख पड़ा। गमगीन माहौल में तीनों का अंतिम संस्कार किया गया। महावीर को छोटे भाई ने मुखाग्नि दी। वहीं मासूम बच्चों को पास में ही दफना दिया गया। बीती शाम सड़क हादसे में तीनों की मौत हो गई थी। जबकि महावीर की पत्नी नीरज की हालत नाजुक बनी हुई है। उसका उपचार चल रहा है। उसे अभी तक इस बात की भनक भी नहीं है कि उसका संसार उजड़ चुका है।

हादसा रिजोर थाना क्षेत्र के बाकलपुर के पास हुआ था। गुमानपुर गांव निवासी महावीर सिंह (35) अपने दो पुत्र पीयूष (7) और यश (5) के साथ ही पत्नी नीरज के साथ बाइक से ससुराल नगला रंजीत जसराना से वापस आ रहे थे। बाकलपुर के पास पहुंचे ही थे कि सामने से आ रही एक बाइक से उनकी भिड़ंत हो गई। इससे दोनों बाइकों पर सवार छह लोग दूर जा गिरे। राहगीरों ने मामले की जानकारी थाना पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी को मेडिकल कॉलेज लेकर आई। यहां इमरजेंसी में चिकित्सक ने गुमानपुर निवासी महावीर सिंह, पीयूष व यश को मृत बता दिया था। जबकि दूसरी बाइक पर सवार जलेसर के महावीरगंज निवासी ललित को मृत घोषित कर दिया था।
वहीं घायल नीरज को आगरा रेफर किया गया है। फफोतू निवासी राजा का उपचार चल रहा है। सूचना मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी नगर विक्रांत द्विवेदी, कोतवाली नगर प्रभारी अरुण पवार मेडिकल कॉलेज पहुंची और पीड़ितों से बातचीत की। क्षेत्राधिकारी सकीट संजय सिंह ने बताया दो बाइकों की भिड़ंत में चार की मौत हुई है, जबकि दो घायल हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *